हिंदू-मुस्लिम मंदिर-मस्जिद करके जब सरकार बन रही तो विकास की क्या जरूरत- लाल बिहारी यादव

हिंदू-मुस्लिम मंदिर-मस्जिद करके जब सरकार बन रही तो विकास की क्या जरूरत- लाल बिहारी यादव

जौनपुर।
विश्व प्रकाश श्रीवास्तव
तहलका 24×7
                नेता विरोधी दल लाल बिहारी यादव स्थानीय पीडब्ल्यूडी के गेस्ट हाउस में प्रेसवार्ता के दौरान कहा कि भाजपा सरकार में लगातार शिक्षकों का शोषण हो रहा है और हम शिक्षकों की लड़ाई सदन से लेकर सड़क तक लड़ने का काम करेगें। हमारी लगातार मांग कर रही है कि पुरानी पेंशन बहाली किया जाए लेकिन अभी तक सरकार इस इस विषय पर कोई भी निर्णय नहीं ले रही है।

पुरानी पेंशन बहाली के लिए समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के नेतृत्व में आगे की लड़ाई लड़नी होगी हम लड़ने का काम करेंगे और पुरानी पेंशन बहाल कराने के लिए भाजपा सरकार को विवश करेंगे। उन्होंने कानपुर के घटना के बारे कहा कि इस घटना का मुख्य जो कारण है कि भाजपा के प्रवक्ता नूपुर शर्मा के भड़काऊ भाषण से दंगा हुआ सबसे पहले तो सरकार को यह बात संज्ञान लेनी चाहिए लेकिन भाजपा सरकार का मुद्दा यह है हिंदू-मुस्लिम और मंदिर-मस्जिद… उनको विकास से कोई लेना देना नहीं है।
भाजपा जब जानती हैं कि हम हिंदू-मुस्लिम मंदिर-मस्जिद करके ही सरकार बना लेंगे तो विकास करने की क्या जरूरत है। आज महंगाई चरम सीमा पर है, गरीब परिवार दो वक्त की रोटी भी नहीं जुटा पा रहा है लेकिन सरकार इन सब विषयों पर उसका ध्यान नहीं है उसका ध्यान बस इतना है कि हम कितने सरकारी संपत्तियों को बेचकर देश को गुलामी के रास्ते पर ले जाएं। इस दौरान मुख्य रूप से जिलाध्यक्ष लालबहादुर यादव, राजबहादुर यादव, हिसामुद्दीन शाह, श्याम बहादुर पाल, प्रवक्ता राहुल त्रिपाठी, राजेश यादव, ऋषि यादव, ईश्वर लाल यादव, याघवेंद्र यादव, निजामुद्दीन अंसारी, डॉ अमर बहादुर यादव आदि लोग मौजूद रहे।
Previous articleजौनपुर : निर्वाण दिवस पर भंडारे का आयोजन
Next articleजौनपुर : बीजेपी की महिला मोर्चा ने किशोरियों व महिलाओं को किया जागरूक
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏