जौनपुर : केराकत (सु) सीट पर किसका होगा कब्जा, सियासी उठापटक तेज

जौनपुर : केराकत (सु) सीट पर किसका होगा कब्जा, सियासी उठापटक तेज

# चुनाव प्रचार में प्रत्याशियों ने झोंकी अपनी ताकत

केराकत।
विनोद कुमार
तहलका 24×7
                विधानसभा चुनाव के दूसरे चरण के मतदान के बाद सियासी हलचल तेज हो गई हैं लगभग सभी सियासी दल अपने उम्मीदवारों की उम्मीवारी तय कर चुकी हैं ऐसे में चुनाव प्रचार प्रसार की सरगर्मी बढ़ गई हैं। जौनपुर जिले की केराकत (सु) सीट पर जीत और हार को लेकर सियासी उठा-पटक शुरू हो गई है।आज़ादी के बाद अब तक सुरक्षित रहने वाली सीट केराकत विधानसभा में अबकी बार किसके लिए सुरक्षित होगी यह तो चुनाव परिणाम आने के बाद ही मालूम होगा।

लेकिन समीकरण बनाने में सभी राजनीति दल अपने अपने तरीको से जनता को लुभाने के प्रयासों में जुट गए हैं। केराकत विधानसभा की जनता अब तक हुए चुनाव में लगभग सभी पार्टियो को मौका दिये है अगर हम बात करे पिछले 30 सालों की तो इस सीट पर त्रिकोणी मुकाबला देखने को मिलता रहा है।पिछले चुनाव में भाजपा के दिनेश चौधरी ने जीत दर्ज की थी उन्होंने सपा के उम्मीदवार संजय सरोज को 15 हजार से अधिक मतों से हराया था तीसरे नम्बर पर बसपा की उम्मीदवार उर्मिला राज रही।

ऐसे में इस वर्ष होने वाले विधानसभा चुनाव में भी केराकत (सु) सीट पर त्रिकोणी मुकाबला देखने को मिल सकता है एक तरफ जहाँ भाजपा ने निवर्तमान विधायक दिनेश चौधरी पर पार्टी ने दोबारा भरोसा जताया है तो समाजवादी पार्टी ने सैदपुर से एक बार व मछलीशहर से दो बार सांसद रहे तूफानी सरोज पर दांव खेला हैं तो वहीं चिकित्सा क्षेत्र में अपनी एक अलग पहचान बनाकर सभी के दिलों पर राज करने वाले प्रसिद्ध सर्जन डॉ लालबहादुर सिद्धार्थ को बहुजन समाज पार्टी ने अपना उम्मीदवार बनाकर केराकत (सु) पर सियासी हलचल तेज कर दी है। डॉ सिद्धार्थ जहाँ एक सामाजिक व्यक्ति है वहीं उनके समर्थकों की बहुताय चुनावी समीकरण को काफी हद तक प्रभावित करेंगे तो वहीं कांग्रेस पार्टी केराकत विधानसभा में जीत का स्वाद चखे अरसा बीत जाने के बाद एक बार फिर जीत की उम्मीदों को बरकरार रखते हुए एक बार फिर अपना प्रत्याशी चुनाव मैदान में उतारा है।

2012 के विधानसभा चुनाव में प्रत्याशी रहे राजेश गौतम को पार्टी ने दोबारा यहाँ का प्रत्याशी बनाकर भरोसा जताया है।त्रिकोणी मुकाबले में कितना हद तक कांग्रेस पार्टी कामियाब होगी ये क्षेत्र की जनता ही तय करेगी।बता दे कि सभी उम्मीदवारों के नामांकन करने के बाद चुनाव प्रचार में अपनी सक्रियता को बढ़ाते हुई डोर टू डोर लोगो से जनसंपर्क करने में जुट गई है। ऐसे में केराकत विधानसभा की जनता किसे जीत का सेहरा बांध कर विधानसभा भेजती है ये तय आने वाले चुनाव परिणाम से ही मालूम होगा बहरहाल यह जनता है सब जानती है…

लाईव विजिटर्स

27345283
Live Visitors
Today Hits
Previous articleजौनपुर : टीडी कालेज को हरा बीनापारा आजमगढ़ बनी विजेता
Next articleजौनपुर : पीयू की मतदाता जागरूकता के मद्देनजर नई पहल
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏