जौनपुर : बरसठी पुलिस ने घायल महिला को पांच घंटे तक थाने में बैठाया

जौनपुर : बरसठी पुलिस ने घायल महिला को पांच घंटे तक थाने में बैठाया

# काफी हो- हल्ला मचने पर पांच घंटे बाद कराया महिला का मेडिकल

बरसठी।
दीपक श्रीवास्तव
तहलका 24×7
               थाने पर एक महिला को मंगलवार को उसके पट्टीदारों ने पीट दिया। उसके हाथ में लगी चोट से रक्तस्राव हो रहा था लेकिन पुलिस ने महिला को सुबह आठ बजे से दोपहर तक थाना पर बैठाए रखा। हो हल्ला होने के बाद दोपहर दो बजे के बाद मेडिकल कराया गया।क्षेत्र अंतर्गत निगोह गांव निवासी महिला सीमा देवी को उसके पट्टीदारों ने मंगलवार को सुबह भूमि विवाद को लेकर पिटाई कर दी थी। महिला के सिर और हाथ में चोट लग गई थी। हाथ में लगे चोट से रक्त बह रहा था। महिला थाने पहुंची तो उसे थाने पर सुबह से दोपहर तक इसलिए बैठाए रखा गया कि दूसरा पक्ष आने के बाद कार्यवाही की जाएगी। महिला दर्द से कराह रही थी।

उसका मेडिकल तक नहीं कराया गया। दूसरा पक्ष नहीं आया तो सुबह से दोपहर तक पांच घंटे बैठाए रखा   गया। महिला का आरोप है कि सुबह से पांच घंटे हो गया लेकिन हमारा मेडिकल तक नहीं कराया गया। इसके पूर्व कई बार भूमि विवाद को लेकर प्रार्थना पत्र दी लेकिन कोई सुनवाई नहीं हुई। पत्रकारों ने पुलिस से इस बारे में जब पूछा तो आनन फानन में दोपहर 2 बजे के बाद मेडिकल कराया गया। पीड़ित थाने से न्याय नहीं मिलने की उम्मीद छोड़ अब एसपी के यहां शिकायत करने की बात कह रही है। दूसरी घटना क्षेत्र के दबिलहा गांव की हैं। पुरानी रंजिश को लेकर मनबढ़ों ने दिनेश और उनके चाचा बाबा पटेल की पिटाई कर दी थी। घायल दिनेश का 5 दिन बाद भी पुलिस ने मुकदमा दर्ज नहीं किया। जबकि पिटाई से उसका हाथ टूट गया। पुलिस 5 दिनों से रोज थाने बुला रही है। दिन भर बैठाने के बाद कोई बहाना बनाकर अगले दिन सुबह आने को कहा जाता है। पुलिस की इस कार्यप्रणाली से युवक व उसके परिजन परेशान है।
Previous articleजम्मू-कश्मीर में जमात से जुड़े 300 स्कूलों को बंद करने का आदेश
Next articleजौनपुर : प्रेम प्रसंग के चलते युवक की सिर कूंचकर हत्या में तीन गिरफ्तार
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏