जौनपुर : विक्रम सिंह बने असिस्टेंट प्रोफेसर, गांव में खुशी का माहौल

जौनपुर : विक्रम सिंह बने असिस्टेंट प्रोफेसर, गांव में खुशी का माहौल

बरसठी।
दीपक श्रीवास्तव
तहलका 24×7
                उत्तर प्रदेश उच्चतर शिक्षा सेवा आयोग प्रयागराज द्वारा जारी हुए परिणाम में गनेशपुर गांव के विक्रम सिंह का चयन असिस्टेंट प्रोफेसर पद पर हुआ है। जिससे उनके गांव गनेशपुर भन्नौर में खुशी का माहौल है।विक्रम सिंह की प्रारंभिक शिक्षा श्री गणेश विद्या पीठ इंटर कॉलेज भन्नौर बरसठी, जौनपुर से हुई   है। उन्होंने स्नातक और परास्नातक शिक्षा इलाहाबाद विश्वविद्यालय से प्राप्त की।

इलाहाबाद विश्वविद्यालय के अमर नाथ झा छात्रावास में रहकर विक्रम सिंह ने विश्वविद्यालय अनुदान आयोग नई दिल्ली द्वारा आयोजित होने वाली NET/ JRF राष्ट्रीय पात्रता परीक्षा भूगोल एवं पर्यावरण विज्ञान दोनों विषयों में उत्तीर्ण की है। वर्तमान में विक्रम सिंह इलाहाबाद विश्वविद्यालय में वायु प्रदूषण और जलवायु परिवर्तन विषय पर प्रोफेसर शैलेन्द्र राय के मार्गदर्शन में शोध कर रहे हैं। महान वैज्ञानिक और देश के पूर्व राष्ट्रपति माननीय एपीजे अब्दुल कलाम को अपना आदर्श बताने वाले विक्रम सिंह ने कहा कि धैर्य, लगन और समर्पण के साथ निरंतर प्रयास करने से ही सफलता प्राप्त होती है। उनके पिता शिव कुमार सिंह व बड़े भाई एडवोकेट सूरज विक्रम सिंह ने बताया कि विक्रम बचपन से ही कुशाग्र बुद्धि छात्र रहे हैं। खेलों के प्रति उनका झुकाव बचपन से ही रहा और विश्वविद्यालय में आयोजित होने वाले खेल प्रतियोगिताओं फुटबाल, क्रिकेट, टेबल टेनिस आदि में उन्होंने कई पुरस्कार प्राप्त किए हैं।
Previous articleजौनपुर : डॉ आलोक को मिला डिप्टी सीवीओ का अतिरिक्त प्रभार
Next articleजौनपुर : किसान का बेटा बना असिस्टेंट प्रोफेसर, परिवार में छाई खुशी
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏