आजमगढ़ : गर्भवती पत्नी की गोली मारकर हत्या करने वाला पति ही निकला हत्यारा

आजमगढ़ : गर्भवती पत्नी की गोली मारकर हत्या करने वाला पति ही निकला हत्यारा

महराजगंज।
फैज़ान अहमद
तहलका 24×7
                  थाना क्षेत्र के अराजी अमानी गांव में गत 29 मई की रात पति के साथ घर के बरामदे में सो रही महिला की गोली मार कर हत्या कर दी गई थी। इस मामले में पति ने चार के खिलाफ नामजद मुकदमा दर्ज कराया था। विवेचना में इस बात की पुष्टि हुई कि महिला की हत्या कोई और नहीं बल्कि पति ने ही किया था। जिसमें मृतका का देवर भी साझीदार था। पुलिस ने शुक्रवार को पति व देवर को गिरफ्तार करने के साथ ही हत्याकांड का खुलासा कर दिया। हत्या में प्रयुक्त तमंचा भी पुलिस ने बरामद कर लिया है।

एसपी ग्रामीण सिद्धार्थ ने शुक्रवार को प्रेसवार्ता के दौरान बताया कि अराजी अमानी गांव निवासीनी अंतिमा (30) पत्नी संत विजय की 29 मई की देर रात गोली मार कर हत्या कर दी गई थी। पति संत विजय ने इस बाबत चार के खिलाफ नामजद मुकदमा महराजगंज थाने में दर्ज कराया था। विवेचना में नामजद किए गए आरोपियों पर आरोप नहीं सिद्ध हुआ। जिस पर पुलिस ने पति संत विजय को ही हिरासत में लेकर पूछताछ करनी शुरू किया। कड़ाई से की गई पूछताछ में संत विजय टूट गया और खुद ही पत्नी की गोली मार कर हत्या की बात स्वीकार किया। उसने बताया कि भाई कन्हैया की मदद से उसने घटना को अंजाम दिया। ऐसा उसने अपने पट्टीदारों को फंसाने के लिए किया। इसके साथ ही इस घटना के पूर्व घर पर चढ़ कर पिता पर हुए हमले के मामले में भी झूठा मुकदमा पंजीकृत कराये जाने की बात स्वीकार किया है। पुलिस ने गर्भवती महिला की हत्या के मामले में पति संतविजय व देवर कन्हैया को गिरफ्तार कर लिया है। दोनों का संबंधित धाराओं में मुकदमा पंजीकृत कर चालान कर दिया गया है।
Previous articleआजमगढ़ : कभी डिम्पल तो कभी सुनील कुमार आनंद के नाम की उड़ती रही अफवाह
Next articleआजमगढ़ : भूमि विवाद में हुई फायरिंग, एक को लगी गोली, कई अन्य घायल
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏