आजमगढ़ : बच्चों की ऊर्जा से आजमगढ़ भरेगा में मतदान की उड़ान

आजमगढ़ : बच्चों की ऊर्जा से आजमगढ़ भरेगा में मतदान की उड़ान

आजमगढ़।
फैज़ान अहमद
तहलका 24×7
                बच्चों की ऊर्जा से आजमगढ़ मतदान का उड़ान भरेगा। छात्र-छात्राएं खुद को प्रथम लाने के लिए तूफानी रफ्तार से एक-एक वोटर तक पहुंच बनाते हुए 1.75 लाख का आंकड़ा छू लिया हैं। 44281 महिलाओं के हाथों में मेहंदी सजाई जा चुकी है, जिनको स्कूली छात्राओं ने परिवार समेत मतदान करने की शपथ दिलाई है। यह परिणाम डीएम की ओर से शुरू की गई प्रतियोगिता का है, जिसमें उन्होंने वर्ष 2017 में खराब परफार्मेंस वाले 600 बूथों पर वोट फीसद बढ़ाने की जिम्मेदारी सौ स्कूलों को दी है।
चुनाव बाद मिशन में शानदार प्रदर्शन करने वाले दस स्कूलों के बच्चों को पुरस्कृत किया जाएगा, जबकि प्रथम, द्वितीय और तृतीय स्थान पाने वाले स्कूलों के टीचर, बच्चों का कलेक्टर खुद से ख्याल रखेंगे।

# आंटी मतदान का दिन भूल न जाना…

गांव-गांव पहुंच रही स्कूली छात्राएं महिलाओं के हाथों में मेहंदी सजाते गीत गा रहीं कि आंटी भूल न जाना, मतदान के दिन बटन दबाना ..। मेहंदी लगवाने के बाद छात्राएं उन्हें शपथ भी दिला रहीं। डीएम का प्रयोग महिलाओं के दिलो-दिमाग पर छा जाने वाला है। सौ स्कूलों के बच्चों के रोजाना टोली बनाकर निकलने से गांव में चुनाव और मतदान के प्रति लोगों में जबरदस्त उत्साह है। महिलाओं के एक हाथ पर मेहंदी से वोट डालने जाना है, अपना फर्ज निभाना है लिखा जा रहा तो दूसरे पर चुनाव की तिथि सात मार्च 2022 और स्वास्तिक बनाया जा रहा है।

# एक लाख घरों में पहुंची डीएम की पाती..

शहर से लेकर गांवों तक में घरों की कुंडी बजना शुरू हो जा रही है। दरवाजों के खुलने पर पता चल रहा कि बच्चे कलेक्टर की पाती पकड़ा रहे हैं। बता रहे कि डीएम साहब ने निवेदन किया है कि आप वोट डालने जरूर अपने बूथ पर पहुंचें। 90517 घरों तक बीते सोमवार तक डीएम की पाती पहुंच चुकी थी।
इस संबंध में आजमगढ़ जिलाधिकारी अमृत त्रिपाठी ने कहा कि जनपद के सभी मतदाताओं से मेरी अपील है कि सात मार्च को अपने मताधिकार का प्रयोग अवश्य करें। आपका एक मत इतिहास बना सकता है। आजमगढ़ को पूरे प्रदेश में सर्वाधिक मतदान प्रतिशत का नाम दिला सकता है। “चलो चलें मतदान करें”…

लाईव विजिटर्स

27343687
Live Visitors
Today Hits
Previous articleजौनपुर : मानव श्रृंखला बना कर वोटरों को मतदान के लिए किया गया जागरूक
Next articleजौनपुर : रोमानियां पहुंचे छात्रों के तीन दिन में भारत पहुंचने की है उम्मीद
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏