गाजीपुर : घूस लेते लेखपाल का वीडियो हुआ वायरल, एसडीएम ने किया निलंबित

गाजीपुर : घूस लेते लेखपाल का वीडियो हुआ वायरल, एसडीएम ने किया निलंबित

सैदपुर।
अंकित मिश्रा
तहलका 24×7
               सैदपुर तहसील में बुधवार की दोपहर दो युवकों ने प्रमाण पत्र बनाने के नाम पर लेखपाल द्वारा घूस लिए जाने का वीडियो बना लिया।जिसका पता चलने पर घूस लेने वाले लेखपाल, कानूनगो और अधिवक्ताओं के बीच जमकर हंगामा हुआ। जिसके बाद एसडीएम ने दोनों युवकों को बुलाकर उनसे घूस मांगने की वीडियो और उनका लिखित बयान लिया। जिसके बाद एसडीएम ने मामले की जांच तहसीलदार नीलम उपाध्याय को सौंप दी। कुछ घंटों में मामले की जांच के बाद तहसीलदार ने लेखपाल को निलंबित कर दिया।

जखनियां गांव निवासी अवनीश तिवारी पुत्र राजेश तिवारी अपने ननिहाल रामपुर माझा निवासी स्वतंत्रता संग्राम सेनानी नाना के मृतक आश्रित का प्रमाण पत्र बनवाने, सैदपुर तहसील आया हुआ था। उसके साथ रामपुर माझा गांव निवासी राजेश पांडे पुत्र रविकांत पांडे भी अपना जाति प्रमाण पत्र बनवाने आया था। जहां उनसे प्रमाण पत्र बनाने के लिए लेखपाल और कानूनगो ने दो-दो सौ रुपए घूस की मांग किया। इस पर चुपके से दोनों युवकों ने रामपुर माझा के लेखपाल राजेश कुमार और कानूनगो जगदीश गुप्ता को घूस देतेे हुए वीडियो बना लिया। तभी लेखपाल कानूनगो कक्ष में किसी लेखपाल ने युवकों को वीडियो बनाते देख लिया। जिसके बाद लेखपाल और कानूनगो ने दोनों युवकों को घेर लिया। सभी युवकों से वीडियो डिलीट करने का दबाव बनाने लगे। इसी बीच मामले की जानकारी होने पर कुछ अधिवक्ता भी मौके पर पहुंच गए। जिन्होंने युवकों को लेखपालों के बीच से बाहर निकाला। इसके बाद उप जिला अधिकारी ओम प्रकाश गुप्ता के आदेश पर युवकों को उनके चेंबर में बुलाया गया। जहां उन्होंने युवकों से लिखित बयान लिया। साथ ही घूस लेते समय का वीडियो देखा और लिया। इसके बाद दोनों युवकों को छोड़ दिया गया।
Previous articleजौनपुर : अनियंत्रित बोलेरो जेसीबी से टकराई, चालक की दर्दनाक मौत, तीन घायल
Next articleगाजीपुर : चार दिनों में पूरु हुई सरवरपुर ग्राम पंचायत में जांच प्रक्रिया
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏