जौनपुर : अराजक तत्वों ने क्षतिग्रस्त किया आंबेडकर मूर्ति, ग्रामीणों में आक्रोश

जौनपुर : अराजक तत्वों ने क्षतिग्रस्त किया आंबेडकर मूर्ति, ग्रामीणों में आक्रोश

खेतासराय।
अज़ीम सिद्दीकी
तहलका 24×7
                  क्षेत्र के मवईं गांव में लगी डॉ भीमराव आंबेडकर की मूर्ति अराजक तत्वों ने शुक्रवार की रात क्षतिग्रस्त कर दिया। शनिवार की सुबह गांव के लोगों ने देखा तो उनमें आक्रोश फूट पड़ा। मौके पर जुटे आंबेडकर के अनुयायी आरोपितों पर कार्रवाई करते हुए गिरफ्तारी की मांग करने लगे। मौके की नाजकत को समझते हुए पुलिस ने आरोपितों को गिरफ्तारी और क्षतिग्रस्त प्रतिमा को सही करवाने का ग्रामीणों को आश्वासन दिया।मवईं गांव में सुबह लोग घरों से निकले तो बाबा साहब भीमराव आंबेडकर की प्रतिमा क्षतिग्रस्त देख सन्न रह गए।

प्रतिमा की दाहिने हाथ की उंगली टूटी थी। प्रतिमा टूटने की खबर गांव में पहुंची तो मौके पर ग्रामीणों की भीड़ जुट गई। लोगों में आक्रोश बढ़ा तो किसी ने पुलिस को सूचना दे दी। पुलिस ने लोगों को समझाने की कोशिश की लेकिन लोग मानने को तैयार नहीं हो रहे थे। ग्रामीण आरोपितों की गिरफ्तारी की मांग कर रहे थे। आरोप है कि गांव के ही शरारतीतत्वों ने तीन दिन पहले आंबेडकर प्रतिमा के पास वगी सोदर लाइट तोड़कर अपने घर उठा ले गए थे। ग्राम प्रधान ने पुलिस को सूचना दी तो पुलिस ने नामजद आरोपितों के घर से लाइट बरामद कर ग्राम प्रधान को सौंप दिया। जिसे प्रधान ने पुनः लगवा दिया था। इस घटना के तीन दिन बाद आंबेडकर प्रतिमा क्षतिग्रस्त कर दी गई। आरोप है कि पुलिस द्वारा आरोपितों पर कोई कार्रवाई न करने से उनका मनोबल और बढ़ गया। ग्रामीणों को उन्हीं आरोपितों पर आंबेडकर प्रतिमा क्षतिग्रस्त करने की आशंका है। थानाध्यक्ष यजुवेंद्र सिंह के अनुसार ग्रामीणों से बातचीत हो रही है। इस मामले में जांच के बाद उचित कार्रवाई होगी।
Previous articleजौनपुर : दीप प्रज्ज्वलन के साथ शुरू हुआ 11 दिवसीय विशेष योगा शिविर
Next articleजौनपुर : खेतासराय पुलिस ने जेसीबी समेत दो ट्रैक्टरों को किया सीज
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏