जौनपुर : आयातित उम्मीदवारों को नकार रही जनता- अशोक सिंह

जौनपुर : आयातित उम्मीदवारों को नकार रही जनता- अशोक सिंह

मड़ियाहूं।
दीपक श्रीवास्तव
तहलका 24×7
                जनपद की महत्वपूर्ण विधानसभा मड़ियाहूं में अपने को एक दूसरे की निकटतम प्रतिद्वंदी मानने वाली दोनों पार्टियों ने बाहरी आयातित उम्मीदवारों को खड़ा करके ना केवल स्थानीय कार्यकर्ताओं का बल्कि जनता का सरासर अपमान किया है। इसका खामियाजा उन सबको भुगतना होगा। यहां के मतदाता मुझे इसी लिए ही अपना आशीर्वाद देंगे। क्योंकि मैं हमेशा इनके साथ सुख दुख में खड़ा रहा हूं उक्त विश्वास मड़ियाहूं विधानसभा से विकासशील इंसान पार्टी के उम्मीदवार अशोक सिंह ने पत्रकरो से बात करते हुए कही।

वह इसको मुद्दा बनाते हुए सर्व जातीय समर्थन हासिल करने में जुटे हुए हैं। उन्होंने एक सवाल के जवाब में बताया कि मड़ियाहूं से समाजवादी पार्टी ने सुषमा पटेल को मुंगरा बादशाहपुर से आयातित कर यहां खड़ा किया है। आखिर सुषमा पटेल अगर मुंगरा बादशाहपुर में अपने कार्यकाल में कुछ नहीं कर पाईं तो यहां वह कौन सा काम करेंगी। क्या मड़ियाहूं के स्थानीय कार्यकर्ताओं में से कोई सपा के उम्मीदवार नहीं बन सकते थे। ठीक इसी तरह भारतीय जनता पार्टी का कमल यहां से गायब है। कप प्लेट के साथ अपने गठबंधन से जिन आरके पटेल को बाहर से लाकर उम्मीदवार बनाया है क्या मड़ियाहूं में उनसे बेहतर काम करने वाले कोई पटेल कार्यकर्ता या नेता नहीं हैं। बीजेपी ने तो ना केवल स्थानीय लोगों का बल्कि अपने गठबंधन के साथियों को भी दरकिनार कर दिया है। बिहार में नीतीश कुमार के साथ गठबंधन कर उसकी सहयोगी पार्टी विकासशील इंसान पार्टी को अपने से अलग कर दिया। इसलिए विकल्प के रूप में मैंने वीआईपी से टिकट लिया।

निषाद पार्टी को भी मड़ियाहूं के माहौल से दूर रखा। वे भी ठगा सा महसूस कर रहे हैं। लगभग 25000 निषाद मतदाता भी मेरे संघर्ष को देखते हुए अपना आशीर्वाद मुझे दे रहे हैं। दूसरे राष्ट्रीय दलों ने पूरी तरह से ब्राह्मण ठाकुर समेत अन्य सवर्णों को भी झिड़क दिया। वह अपमानित महसूस कर रहे हैं।मैं उनके संताप को दूर करूंगा। एक अन्य सवाल के जवाब में अशोक सिंह ने कहा कि मड़ियाहूं में विकास के नाम पर कुछ नहीं हुआ है। मेरी प्राथमिकता होगी कि एक बेहतर सड़क और लोगों को पीने का पानी पहले मुहैया कराऊं। बिजली की समस्या को दूर करने के लिए हाई ग्रीड ट्रांसफार्मर की आवश्यकता जहां हमेशा बनी रहती है मैं उसे पूरा  करूंगा। युवाओं के विकास के लिए यहां पर टेक्निकल कॉलेज और स्वास्थ्य सेवा के लिए बेहतरीन अस्पताल मेरी प्राथमिकताओं में से हैं। मुझे पूरी उम्मीद है कि मेरे चुनाव चिन्ह नाव को भगवान उसी तरह उस पार करेंगे जैसे निषाद बंधुओं ने भगवान को अपनी नाव में बिठा कर नदी पार करवाई थी।

लाईव विजिटर्स

27287265
Live Visitors
4843
Today Hits

Earn Money Online

Previous articleलुगासा : जय श्री राम के नारे से गूंज उठा जाम्बिया देश, हुआ भगवा मय
Next articleजौनपुर : स्वच्छता है स्वस्थ जीवन का मुख्य आधार- राम मोहन अस्थाना
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏