जौनपुर : गोलियों की तड़तड़ाहट से गूंज उठा बीधमहुआ गांव, क्षेत्र में फैली दहशत 

जौनपुर : गोलियों की तड़तड़ाहट से गूंज उठा बीधमहुआ गांव, क्षेत्र में फैली दहशत 

# सनकी भतीजे ने अपने बड़े पिता समेत परिवार के चार लोगों पर झोंका फायर

# बड़े पिता की हुई मौत, दो महिलाएं समेत चार घायल, ट्रामा सेन्टर रेफर

नेवढ़िया।
दीपक श्रीवास्तव
तहलका 24×7
              थाना क्षेत्र अंतर्गत क्षेत्र रामनगर ब्लाक के बीधमहुआ गांव के एक सनकी भतीजे आकाश ने ना जाने कौन सी खुन्नस में अपने ही सगे बड़े पिता समेत परिवार की दो महिला सहित एक 13 वर्षीय मासूम पर ताबड़तोड़ गोलियां बरसाई। आकाश द्वारा देर रात घर के बाहर सो रहे 65 वर्षीय बड़े पिता राजबलि को अपनी गोली का निशाना बनाते हुए दो गोली मारकर मौत के घाट उतारा।
(फाईल फोटो मृतक राजबली )
गोली चलने की आवाज सुनकर घर के छत पर सो रहे बड़े पिता के लड़के रविन्द्र यादव सहित परिवार के सभी सदस्य भाग कर बाहर आए तो देखा कि आकाश हाथ में असलहा लिए हुए था जिसने रविन्द्र के पिता को गोली मारकर हत्या कर दिया जिसके बाद रविन्द्र सहित परिवार के लोग आकाश को पकड़ने के लिए दौड़े ही थे कि खून के प्यासे आकाश ने अंधाधुंध गोलियां चलाना शुरु कर दिया जिसके द्वारा चलाई गई दो गोली रविन्द्र की मां शान्ति देवी 60 वर्षीय के पेट में लगी और एक गोली रविन्द्र की पत्नी विमला 40 वर्षीय के पैर में लगी वही एक एक गोली रविन्द्र के मासूम बेटे गौरव यादव 13 वर्षीय के घुटने के ऊपर एक गोली लगी इतने के बावजूद रविन्द्र ने हत्यारे आकाश का पीछा करना चाहा कि उनसे असलहे के मुठियां से रविन्द्र यादव 45 वर्षीय के सिर पर मारकर मौके से फरार हो गया।
सनकी आकाश के द्वारा चलाई गई ताबड़तोड़ गोली से राजबलि की मौके पर ही मौत हो गई, वहीं परिवार की दो महिला सहित 13 वर्षीय मासूम घायल हो गए, वहीं गांव में गोली चलने की घटना से क्षेत्र में दहशत का माहौल कायम हो गया। घटना की सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने आनन फानन में सभी घायलों को इलाज के लिए जिला अस्पताल भेजा। जहाँ घायल रविन्द्र को भर्ती कर इलाज किया जा रहा है अन्य सभी घायलों की नाजुक स्थिति देखते हुए उन्हें बेहतर इलाज के लिए ट्रामा सेन्टर वाराणसी के लिए रेफर किया गया। घटना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस आरोपी की धरपकड़ में जुट गई है।
घायल रविन्द्र ने बताया कि उसके परिवार के सदस्य रोजी-रोटी के सिलसिले से महाराष्ट्र में रहते हैं गांव में माता पिता के साथ बड़े भाई की पुत्री दीपिका रहती हैं हम सभी परिवार के साथ महाराष्ट्र में रहते हैं माता पिता से मिलने के लिए अभी तीन दिन ही गांव आए और चाचा के सनकी लड़के ने हम सभी परिवार पर देर रात ताबड़तोड़ गोलियां बरसा दी जिसमें मेरे पिता की मौत हो गई है और मां को दो गोली लगने के कारण उनकी भी स्थिति गंभीर बनी हुई है। मां सहित मेरी पत्नी व बेटे को भी गोली लगी है जिन्हें बेहतर इलाज के लिए चिकित्सक द्वारा वाराणसी रेफर किया गया है।
वहीं रविन्द्र ने यह भी बताया कि उसके चाचा का लड़का एक वर्ष पूर्व जेल से रिहा हुआ था जो महाराष्ट्र में किसी कांड के दौरान तीन वर्ष तक जेल में रह चुका है जो अब आज अपने ही परिवार का दुश्मन बन बैठा, सनकी चचेरे भाई के प्रकोप का मेरा पूरा शिकार हो गया।

लाईव विजिटर्स

27297292
Live Visitors
5826
Today Hits

Earn Money Online

Previous articleजौनपुर : कोटेदार की शिकायत करने पर मिल रही है धमकी
Next articleजौनपुर : तहसील प्रशासन ने हटवाया अतिक्रमण
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏