जौनपुर : ग्रामीणों ने किया वोट का बहिष्कार, सीओ बोले- दबा सकते हैं नोटा का बटन

जौनपुर : ग्रामीणों ने किया वोट का बहिष्कार, सीओ बोले- दबा सकते हैं नोटा का बटन

जौनपुर।
विश्व प्रकाश श्रीवास्तव
तहलका 24×7
               यूपी विधानसभा चुनाव के सातवें और अंतिम सातवें चरण में जौनपुर की नौ सीटों पर आज मतदान जारी है। दोपहर 12 बजे तक 26 फीसद से ज्यादा तक मतदान हो चुका था। मछलीशहर विधानसभा क्षेत्र के चतुर्भुजपुर गांव के ग्रामीणों ने गांव का विकास न होने से वोट का बहिष्कार कर दिया।मतदान बहिष्कार सूचना पर जौनपुर जिला- प्रशासन सकते में आ गया। एसडीएम अर्चना ओझा, सीओ एसपी उपाध्याय पुलिस फोर्स के साथे गांव पहुंचे और ग्रामीणों को समझाया।

सीओ ने कहा कि अगर आप किसी को अपना नोट नहीं देना चाहते हैं तो आपके पास एक ऑप्शन है। आप नोटा का बटन दबा सकते हैं। जिसके बाद मतदाता बूथ तक पहुंचे। मतदाताओं का कहना है कि हरद्वारी न्याय पंचायत के चतुर्भुजपुर गांव में बरसात के दिनों में सड़क पर पानी भर जाने से रास्ता अवरुद्ध हो जाता है। इसके साथ ही गांव में कोई विकास कार्य नहीं हुआ है। एसडीएम ने बताया कि गांव के लोग मतदान नहीं कर रहे थे, उन्हें समझाया गया तो वे लोग नोटा पर वोट देने के लिए राजी हुए और अब मतदान हो रहा है।

# एक मंत्री, दो पूर्व मंत्री और तीन पूर्व सांसद मैदान में..

एसडीएम ने बताया कि करीब 30-35 मत पड़ने के बाद लोगों मतदान बहिष्कार किया था। जौनपुर में कुल 2145 मतदान केंद्रों पर 3948 मतदेय स्थलों पर कुल 3510929 मतदाता अपना विधायक चुन रहे हैं। जौनपुर से प्रदेश सरकार के एक मंत्री, दो पूर्व मंत्री व तीन पूर्व सांसद चुनाव मैदान में हैं। जिले में जौनपुर सदर, मल्हनी, शाहगंज, केराकत (सु.), जफराबाद, मड़ियाहूं, मछलीशहर (सु), मुंगराबादशाहपुर और बदलापुर में मतदान चल रहा है।

# जगह-जगह गड़बड़ी की मिलती रही शिकायतें..

जौनपुर की मल्हनी विधानसभा क्षेत्र जनपद ही नहीं प्रदेश का सबसे संवेदनशील क्षेत्र की श्रेणी में है। कड़ी सपरक्षा व्यवस्था के बीच सुबह सात बजे मतदान शुरू हुआ तो वोटरों में खासा उत्साह देखा गया। कई आदर्श मतदान केंद्रों को गुब्बारे व झंडियों से सजाने के साथ वोटरों को लुभाने के लिए सेल्फी प्वांइट भी बनाए गए हैं। जहां वोट देकर मतदाता अमिट स्याही लगी ऊंगली को दिखाते हुए सेल्फी लेना नहीं भूले।

वहीं कुछ केंद्रों पर कतिपय लोगों द्वारा ईवीएम का बटन दबाने की शिकायत मिली जिसे प्रशासन द्वारा निराधार बताया गया। कई जगह ईवीएम पर फेविक्विक डालने की भी अफवाह उड़ी। जिलाधिकारी मनीष वर्मा और एसपी मुकेश साहनी भारी भरकम काफिले के साथ चक्रमण कर रहे हैं। अधिकारियों ने कहा कि कुछ जगह शिकायते मिलीं जिनकी जांच कराई गई तो निराधार साबित हुई। उन्होंने चेतावनी दी कि अफवाह फैलाने वालों तथा गड़बड़ी पैदा करने वालो के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

लाईव विजिटर्स

27275108
Live Visitors
832
Today Hits

Earn Money Online

Previous articleजौनपुर : फर्जी मतदान की सूचना पर पुलिस ने किया बल प्रयोग
Next articleजौनपुर : शांति-पूर्वक तरीके से सम्पन्न हुआ अंतिम चरण का चुनाव
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏