जौनपुर : लिस्ट से नाम कटने के चलते हजारों लोग हुए मतदान से वंचित

जौनपुर : लिस्ट से नाम कटने के चलते हजारों लोग हुए मतदान से वंचित

# मतदाता पहचान पत्र लेकर इधर-उधर भटकते दिखे तमाम लोग

जौनपुर।
विश्व प्रकाश श्रीवास्तव
तहलका 24×7
               अधिकांश बूथों पर सोमवार को जहां खामियां नजर आईं वहीं मतदाता पहचान पत्र लेकर पहुंचने वाले मतदाताओं को भी बूथों से वापस लौटना पड़ा। वजह, उनका सूची में नाम ही नहीं था।
शाहगंज विधानसभा क्षेत्र के कई बूथों पर लोग हाथ में वोटर आईडी कार्ड लेकर भटकते रहे और वो वोटिंग लिस्ट में नाम न होने के चलते वोट न देकर निराश घर लौट गये। जिनमें आक्रोश देखा गया। शाहगंज विधानसभा क्षेत्र के रामसहाय, मुस्तकीम, शिवानंद, मो. असकरी, नूर फातिमा, सुशील, हरिवंश, मनराजी, मनोज, इस्तियाक अहमद, बेलाल अंसारी, विकास, प्रभुनाथ समेत तमाम मतदाताओं ने कहा कि बीएलओ की गलती से हम वोट देने से वंचित रह गये।
सदर विधानसभा क्षेत्र में नगर के उमरपुर हरिबंधनपुर निवासी साहब लाल पत्नी के साथ कृषि भवन परिसर स्थित बूथ पर वोट डालने गए। उनकी पत्नी का तो सूची में नाम था, लेकिन उनका नाम गायब होने के कारण मतदान कर्मियों ने लौटा दिया। इसी क्रम में जफराबाद विधानसभा के कुछमुछ गांव के बूथ संख्या 81 पर दोपहर बाद मतदान करने पहुंचे कई लोगों का नाम मतदान सूची से मृत दिखाकर काट दिया गया। आक्रोशित लोगों ने बीएलओ के खिलाफ नारे भी लगे। प्रदर्शन में शामिल संतोष मिश्रा, श्रीकांत मिश्रा, त्रिभुवन राम, संजय गौतम, नखड़ू, राजीव व मीना देवी आदि का आरोप है कि उनके गांव की बीएलओ ने एक पार्टी विशेष को फायदा देने के लिए उन लोगों का नाम मतदाता सूची में मृत दिखाकर कटवा दिया गया। पुन: प्रकाशन के दौरान उन लोगों को मतदाता सूची दिखाई भी नहीं गई थी।
वहीं बदलापुर विधानसभा क्षेत्र के कबेली के जयराम व हरिहरपुर गांव अतुल कुमार मिश्रा सहित कई मतदाताओं ने वोटर लिस्ट से नाम कटने की शिकायत की। पार्टी कार्यकर्ताओं ने इस पर आक्रोश जताया तो मौके पर पहुंचे भाजपा प्रत्याशी विधायक रमेश चंद्र मिश्र ने लोगों को समझा-बुझाकर शांत कराया। केराकत विधानसभा क्षेत्र के छितौना गांव के रामजीत यादव, नखड़ू, विकास यादव, अंकित गोंड़, प्रियंका गोड़, पुष्पा पाल, अनिल सरोज, रामसभा मौर्य, पंकज मौर्य आदि मतदाताओं की शिकायत रहीं कि उनका नाम वोटर लिस्ट में नहीं था।
इसी क्रम में मुफ्तीगंज के व्यापारियों ने मतदाता सूची से नाम काटने का आरोप लगाते हुए आक्रोश जताया है। खुटहन क्षेत्र में कई महीने पूर्व से वोटर लिस्ट में सुधार को चल रहे कवायद के बाद भी तमाम बूथों पर सूची से बड़े, बूढ़े का नाम गायब मिला। घर से मतदान करने आये लोग वापस लौट गए। इसको लेकर मतदाताओं में नाराजगी भी रही। बूथ संख्या 390 रुस्तमपुर, 387 हैदरपुर, 383, 384,385 और 386 डिहिया के अलावा पिलकिछा, खुटहन, शेरपुर आदि गावों के बूथों पर भेजी गई वोटर लिस्ट में बड़ी संख्या में नाम गायब रहे। मतदाताओं ने बीएलओ के खिलाफ आक्रोश जाहिर किया है।

लाईव विजिटर्स

27283177
Live Visitors
753
Today Hits

Earn Money Online

Previous articleजौनपुर : थानाध्यक्ष मीरगंज पर सपा नेताओं ने लगाया पीटने का आरोप
Next articleजौनपुर : मतदान के दौरान पीठासीन अधिकारी की तबीयत बिगड़ी
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏