जौनपुर : हफ्ते भर से आमरण अनशन बैठे सौरभ द्विवेदी की मांग हुई पूरी, टूटा अनशन

जौनपुर : हफ्ते भर से आमरण अनशन बैठे सौरभ द्विवेदी की मांग हुई पूरी, टूटा अनशन

# सीओ सिटी व एसडीएम ने ज्ञापन लेकर कार्यवाही के लिये किया आश्वस्त

जौनपुर।
विश्व प्रकाश श्रीवास्तव
तहलका 24×7
                 सबका साथ सबका विकास सबको न्याय देने का वादा करने वाली सरकार में उनके ही लोगो को न्याय पाने के लिये आमरण अनशन करना पड़ा है। जहां प्रदेश की योगी सरकार भू-माफियाओं के खिलाफ अभियान चला रही है तो वहीं दूसरी तरफ जौनपुर में भू-माफिया इस कदर हावी है कि सरकारी आदेश के बाद भी बाउंड्री वाल गिरा दिया।इस संबंध में पीड़ित सौरभ दिवेदी द्वारा जिलाधिकारी से मिलकर अपनी बात रखते हुए प्रार्धना पत्र देते हुआ कहा कि यदि उनके प्रकरण में कोई कार्रवाई नहीं होती तो वह आमरण अनशन पर कलेक्ट्रेट परिसर में बैठेगे।

इसी क्रम में जिलाधिकारी को शिकायती पत्र देने के बाद भी कोई कार्यवाही न होने से क्षुब्ध पीड़ित कलेक्ट्रेट परिसर आमरण अनशन पर बैठ गए है। अनशन के सातवें दिन अनशन स्थल पर पहुंचे राष्ट्रीय मुख्य संयोजक रवि चाणक्य घटना को संज्ञान में लेते हुए जौनपुर पहुंचे जहां उन्होंने जिले के आला अधिकारियों से बातचीत कर जूस पिलाकर अनशन को समाप्त कराया। इस मौके पर उप जिलाधिकारी केराकत माज अख्तर व क्षेत्राधिकारी सदर जितेंद्र दुबे ने मौके पर पहुँचकर पीड़ित हालचाल जाना और उन्हें पूरी तरह से अग्रिम कार्रवाई करने के लिए शासन द्वारा आश्वस्त किया।इस मौके पर नरेंद्र मोदी विचार मंच के प्रांत सगंठन मंत्री डॉ संजय पाण्डेय, प्रांतीय महामंत्री व जिला प्रभारी राजेश श्रीवास्तव, राष्ट्रीय सगंठन महामंत्री दिलिप सिंह सहित अधिवक्ता मचं के राष्ट्रीय अध्यक्ष अश्विन त्रिवेदी व कानपुर प्रांत के बरिष्ठ पदाधिकारी धरम जी जिले के तमाम कार्यकर्ताओं के आगे जिला प्रसाशन को घुटने टेकने पर मजबूर हुआ। जिले के समस्त कार्यकर्ता ओम् प्रकाश गुप्ता, नरेन्द्र मौर्य, दीपक श्रीवास्तव पत्रकार प्रभारी मीडिया सेल, संदीप श्रीवास्तव पत्रकार, राम नगीना यादव, चंद मणि पाण्डेय, मुन्ना मिश्रा, संतोष श्रीवास्तव, कृपा शंकर सिंह आदि लोग मौजद रहे।
Previous articleजौनपुर : प्राथमिक शिक्षक संघ ने तीन सूत्रीय मांगो को लेकर सौंपा पत्रक
Next articleजौनपुर : अमृत महोत्सव के तहत निकाली गई तिरंगा यात्रा
तहलका24x7 की मुहिम..."सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏