जौनपुर : मारपीट में घायल महिला की सत्रह दिन बाद इलाज के दौरान मौत

जौनपुर : मारपीट में घायल महिला की सत्रह दिन बाद इलाज के दौरान मौत

तेजीबाज़ार।
संदीप गुप्ता
तहलका 24×7
               बक्सा थाना क्षेत्र के सरौली गांव में हुए आपसी विवाद में महिला की बीते दिनों गंभीर चोट लगी थी, जिसका 17 दिन बाद ट्रामा सेंटर में इलाज के दौरान बृहस्पतिवार को मौत हो गई। मौत की खबर सुनते ही परिवार वालों में कोहराम मच गया, और वहीं शुक्रवार को जब महिला का शव घर पहुंचा तो ग्रामीणों का भारी भीड़ इकट्ठा हो गयी, साथ ही साथ मौके पर संबंधित थाने की भारी पुलिस बल भी पहुंच गयी।

मिली जानकारी के मुताबिक बीते तीस मई को महाबल प्रजापति के घर कुछ रिस्तेदार चौथ लेकर आये हुए थे उनके जाने के बाद किसी बात को लेकर दो पक्ष के बीच आपसी विवाद शुरू हो गया विवाद बढ़ गया और मारपीट की नौबत आ गयी, लोगों ने बीच बचाव किया लेकिन बात नही बनी और महाबल की पत्नी शकुंतला उर्फ गुलाबी देवी (उम्र लगभग 62 वर्ष) को गंभीर चोट लगी जिससे उनका सिर फट गया, खून से लतफत शकुंतला को लोग हॉस्पिटल लेकर भागे, घटना की सूचना संबंधित पुलिस थाने पर दी गयी जहां आरोपी के खिलाफ लिखित तहरीर मिलने पर पुलिस अपनी कार्यवाही में जुटी हुई थी, जौनपुर के डॉक्टरों की टीम ने बेहतर इलाज हेतु घायल शकुंतला को ट्रामासेन्टर रेफर कर दिया, जहां इलाज के दौरान बृहस्पतिवार की तड़के लगभग पांच बजे शकुंलता की मौत हो गयी, मौत के खबर की सूचना मिलते ही गावँ में मातम सा छा गया।

शुक्रवार को महिला का शव घर पहुंचते ही थानाध्यक्ष बक्शा ओमनारायण सिंह मय फोर्स मौके पर पहुंच कर कार्यवाही में जुट गये।थानाध्यक्ष ने कहा कि इस मामले में कुछ लोगों को हिरासत में लिया गया है इन्होंने कहा कि मुख्य आरोपी कोई भी हो उसे बक्सा नही जायेगा उसके खिलाफ गैंगेस्टर की कार्यवाही की तैयारी की जा रही है, उसने बहुत ही जघन्य अपराध किया है।
Previous articleजौनपुर : योग के साथ दिनचर्या को भी करें ठीक- कुलसचिव
Next articleजौनपुर : जिला अस्पताल में बच्चों के टेढ़े मेढ़े पैरों का निःशुल्क इलाज
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏