जौनपुर : रामपुर खुर्द गांव में लगने लगा नेताओ का जमावड़ा

जौनपुर : रामपुर खुर्द गांव में लगने लगा नेताओ का जमावड़ा

# सभी राजनैतिक दलों ने दर्ज कराई अपनी हाजिरी, जल्द खुलासे का पुलिस पर दबाव

मीरगंज।
दीपक श्रीवास्तव
तहलका 24×7
               थाना क्षेत्र के रामपुर खुर्द गांव मे मृतक जीतलाल गौतम की हत्या की सूचना मिलने पर राजनितिक पार्टियों द्वारा राजनैतिक रोटी सेंकने का दौर शुरू हो गया है। दलित वर्ग से मामला जुड़ा होने के कारण सभी पार्टियां बढ़-चढ़कर आगे आ रही है। चाहे सत्ता पक्ष हो या विपक्ष सभी दल के नेता पहुंच कर पीड़ित परिवार से मिलकर ढांढस बंधाने मे जुट गये है।ग्राम पंचायत रामपुर खुर्द के युवक जीत लाल गौतम का शव सोमवार सुबह बगल की बाजार मुबारकपुर मे मिला था। पीड़ित परिवार की तहरीर पर पुलिस 5 अज्ञात लोगो के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज करके मामले की जांच मे जुट गयी है।

घटना के दिन ही पहले भीम आर्मी ने सहानुभूति के लिए सड़क जाम करके पीड़ित परिवार के लिए पुलिस से मांग पत्र सौप कर अपनी उपस्थित दर्ज करा दिया। इसकी सूचना मिलने पर सपा के मछलीशहर विधान सभा अध्यक्ष सूर्य भान यादव, सपा अनुसूचित जाति प्रकोष्ठ के जिलाध्यक्ष मेवालाल गौतम, बसपा के जिलाध्यक्ष राजकुमार भारती, भाजपा से मछलीशहर प्रत्याशी रहे मेही लाल गौतम मौके पर पहुंच गये यहां तक सभी लोग थाने भी पहुंच कर पुलिस से घटना की शीघ्र खुलासे की मांग कर डाली। शाम होते-होते मछलीशहर की विधायक सपा नेता रागिनी सोनकर भी मौके पर पहुंच गयी और पीड़ित परिवार को हर संभव मदद का भरोसा दिला कर पुलिस अधिकारियों से खुलासा जल्दी करने की मांग कर डाली।

इसके बाद बुधवार को भी नेताओं के पहुचने का दौर शुरु रहा। बुधवार को सपा के मछलीशहर से पूर्व सांसद व वर्तमान केराकत विधायक तूफानी सरोज, सपा जिलाध्यक्ष लाल बहादुर यादव, भीम आर्मी के विधानसभा प्रत्याशी एसपी मानव, जिला पंचायत सदस्य राहुल कुमार, पूर्व जिला पंचायत सदस्य आशा राम यादव, जयहिन्द यादव, देवराज यादव, बसपा जिलाध्यक्ष राज कुमार भारती सहित बसपा के कोआर्डिनेटर मृतक जीत लाल के घर पहुंच पीड़ित परिवार को ढांढस बधाया तथा शोक व्यक्त किया और शासन प्रशासन से मामले का जल्द खुलासा करने की मांग की कर डाली तथा हत्यारो की शीघ्र गिरफ्तारी की मांग की गयी।

अब सवाल यह उठता है कि क्या इन नेताओं के आने से ही न्याय मिलेगा। फिलहाल न्याय मिले या ना मिले लेकिन नेताओं के पहुंचने से मीरगंज पुलिस के ऊपर घटना का खुलासा करने का दबाब बढ़ता जा रहा है।

लाईव विजिटर्स

27297296
Live Visitors
5830
Today Hits

Earn Money Online

Previous articleजौनपुर : जितना कम होगा मृदा प्रदूषण, उतना ज्यादा होगा उत्पादन
Next articleजौनपुर : 14 मई को लगेगी राष्ट्रीय लोक अदालत, तैयारी पूरी
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏