वीआईपी उम्मीदवार अशोक सिंह को पुलिस ने प्रचार करने से रोका

वीआईपी उम्मीदवार अशोक सिंह को पुलिस ने प्रचार करने से रोका

# सीओ के आश्वासन के बाद खत्म हुआ सड़क का धरना

मड़ियाहूं।
दीपक श्रीवास्तव
तहलका 24×7
                जैसे-जैसे पूर्वांचल की तरफ मतदान करीब आता जा रहा है विरोधी पार्टियां एक दूसरे को रोकने के लिए कई हथकंडे अपनाने लगी हैं। इसी कड़ी में मड़ियाहूं विधानसभा से विकासशील इंसान पार्टी के उम्मीदवार अशोक सिंह के अनुसार रामपुर पुलिस थाना प्रभारी ओम नारायण सिंह ने उन्हें प्रचार करने से ही मना कर दिया। श्री सिंह का आरोप है कि थाना प्रभारी ने मुझे अपशब्द कहते हुए कहा कि क्या तुम कोई मंत्री या विधायक हो। पुलिस की इस हरकत से क्षुब्ध होकर वीआईपी उम्मीदवार अशोक सिंह ने रामपुर थाना के सामने धरना शुरू कर दिया और जौनपुर भदोही सड़क जाम कर दिया।

इस संबंध में अशोक सिंह का कहना है कि मैंने इसकी लिखित तहरीर पुलिस उपाधीक्षक मड़ियाहूं को दी। काफी देर तक सड़क जाम रहने पर सीओ ने आकर आश्वासन दिया कि मैं जांच करके थाना प्रभारी के खिलाफ एक्शन लूंगा। आप सड़क से हट जाएं। उनके आश्वासन पर वीआईपी के समस्त कार्यकर्ताओं ने सड़क से हट कर फिर से प्रचार प्रसार शुरू कर दिया। धरने के दौरान काफी देर तक सड़क जाम रहा। धरना पर बैठे वीआईपी के कार्यकर्ता थाना प्रभारी को निलंबित करने की मांग करते रहे। अशोक सिंह ने कहा कि यह विरोधियों की चाल है मेरी बढ़ती लोकप्रियता को देखते हुए विरोधी अब प्रशासन को मिलाकर हमें प्रचार से रोकना चाहते हैं, लेकिन मैं बता दूं मैं लोगों को जोड़ने के लिए मड़ियाहूं से चुनाव लड़ रहा हूं तोड़ने के लिए नहीं। इसलिए हर समुदाय हर समाज का सहयोग भी मुझे मिल रहा है। पुलिस की इस कार्रवाई से मैं बिल्कुल नहीं डर रहा हूं क्योंकि जनता का आशीर्वाद मेरे साथ है।

लाईव विजिटर्स

27297873
Live Visitors
6407
Today Hits

Earn Money Online

Previous articleसभ्यता, संस्कृति और परंपरा का नाम है भाषा- प्रो. अविनाश पाथर्डीकर
Next articleयोगी सरकार में भयमुक्त व भ्रष्टाचार मुक्त का वातावरण- सुब्रत पाठक
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏