आजमगढ़ : जिले में पढ़ा रहे 10 फर्जी शिक्षकों के खिलाफ दर्ज होगी एफआईआर

आजमगढ़ : जिले में पढ़ा रहे 10 फर्जी शिक्षकों के खिलाफ दर्ज होगी एफआईआर

आजमगढ़।
फैज़ान अहमद
तहलका 24×7
                  एसटीएफ द्वारा जिले में फर्जी प्रमाणपत्र लगाकर नौकरी करने वाले 10 शिक्षकों की पहचान के बाद भी अभी तक उनके विरुद्ध एफआईआर नहीं दर्ज हुई है। बेसिक शिक्षा के महानिदेशक ने बीएसए को दस फर्जी शिक्षकों की सूची भेजकर उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज करवाने के लिए निर्देश जारी किए हैं।स्कूल शिक्षा महानिदेशक विजय किरन आनंद ने पत्र जारी कर कहा है कि एसटीएफ द्वारा चिन्हित संदिग्ध शिक्षकों एवं कर्मचारियों के विरूद्घ प्राथमिकी दर्ज कराने का निर्देश दिया गया था।

लेकिन प्राथमिकी दर्ज कराने में थाने की पुलिस सहयोग नहीं कर रही है। महानिदेशक की ओर से भेजी गई सूची में दस शिक्षकों का नाम शामिल हैं। जिसमें पू.मा. वि. जमीन दसावं ब्लाक संसाधन केंद्र अतरौलिया में सहायक अध्यापक नंद लाल, नेहा शुक्ला सहायक अध्यापक प्रा.वि. सीही विकासखंड सठियांव, प्रमोद कुमार सिंह सहायक अध्यापक प्राथमिक विद्यालय पिछौरा, राजा राम सहायह अध्यापक प्रा.वि. छीरीब्राह्मण, अजीत कुमार यादव, गोविंद पांडेय कंपोजिट विद्यालय फदगुदिया पवई, धीरज सिंह कश्यप सहायक अध्यापक प्रा.वि. गोमाडीह ठेकमा शामिल हैं। वहीं अविनाश प्रजापति सहायक अध्यापक प्रा.वि. भटपुरवा पठकौली अतरौलिया, राजेश कुमार चौबे सहायक अध्यापक प्रा.वि. राजापट्टी अहरौला व आशुतोष सिंह सहायक अध्यापक प्रा. वि. नरायनपुर साउथ विकास खंड तरवां का नाम शामिल है। जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी अतुल कुमार ने बताया कि एसआईटी की जांच में कई शिक्षक फर्जी पाए गए थे। उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने के लिए निर्देश दे दिए गए हैं।
Previous articleसुल्तानपुर : मूक-बधिर युवती के साथ दुष्कर्म के आरोपी को 14 वर्ष की कैद
Next articleआजमगढ़ : फर्जी कंपनी खोलकर ठगी करने वाली दो महिला गिरफ्तार
तहलका24x7 की मुहिम..."सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏