जौनपुर : जेसीबी मशीन से तालाब खुदाई का वीडिओ वायरल

जौनपुर : जेसीबी मशीन से तालाब खुदाई का वीडिओ वायरल

# दोषी पाये जाने पर ग्राम प्रधान और सेक्रेटरी के खिलाफ दर्ज होगा मुकदमा- बीडीओ

केराकत।
विनोद कुमार
तहलका 24×7
                   मनरेगा योजना के तहत ग्रामीणों को रोजगार उपलब्ध कराने की योजना केराकत ब्लाक में भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ रही है। शिकायत है कि ब्लाक क्षेत्र के पूरनपुर गांव में मनरेगा योजना के तहत स्वीकृत तालाब की खुदाई मजदूरों से नहीं बल्कि जेसीबी मशीन से कराई जा रही है। जिसका एक वीडिओ और फोटो भी वायरल हो रहा है।
ब्लाक के अधिकारी हैं कि वे जानने के बाद मामले पर कार्रवाई के बजाय उसको छिपाने में लगे हैं। जिससे नागरिकों में रोष है। जानकारी के मुताबिक पूरनपुर गांव में 33 लाख रूपये की लागत से नवीन तालाब की खुदाई का काम हो रहा है। शिकायत है कि तालाब की खुदाई का काम मनरेगा मजदूरों के बजाय जेसीबी मशीन से कराया जा रहा है। इसके अलावा कार्य स्थल पर कार्य योजना का बोर्ड भी नहीं लगाया गया है। जेसीबी मशीन से खुदाई का वीडिओ वायरल हो रहा है।
जेसीबी मशीन से काम कराये जाने से गांव के मनरेगा मजदूरों में आक्रोश है। अनेक लोगों ने बीडीओ अनिल कुमार कुशवाहा से इसकी शिकायत की है। इस बारे में पूछे जाने पर बीडीओ अनिल कुमार कुशवाहा ने बताया कि अभी काम शुरू नहीं हुआ है। अभी तो जमीन की नापी कराई गई है और उसका इस्टीमेट बनाया गया है। अब उस पर जल्द ही काम शुरू होगा।
वीडिओ वायरल होने के बावत कहा कि इसके पहले जहां खुदाई का काम होना था वहां विवाद के कारण रद्द कर दिया गया। उन्होंने बताया कि यदि किसी गांव से जेसीबी मशीन से खुदाई किए जाने की शिकायत आएगी तो संबंधित ग्राम प्रधान और सेक्रेटरी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया जायेगा।
Previous articleजौनपुर : चिलचिलाती धूप में मॉडल तालाब व सूखी नहरे बनी शोपीस
Next articleई-विन एई डिजिटल प्लेटफार्म पर मौजूद है वैक्सीन की सूचना- डॉ नरेंद्र सिंह
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏