जौनपुर : पूर्व की सरकारों में मत और मतदाता के हिसाब से होता था विद्युतीकरण- गिरीश 

जौनपुर : पूर्व की सरकारों में मत और मतदाता के हिसाब से होता था विद्युतीकरण- गिरीश

केराकत।
विनोद कुमार
तहलका 24×7
                क्षेत्र के ग्राम सेनापुर में स्थित शहीद स्मारक के परिसर में शुक्रवार को शाम पांच बजे आजादी के अमृत महोत्सव पर विद्युत विभाग द्वारा आयोजित उज्जवल भारत उज्जवल भविष्य के बैनर तले बिजली महोत्सव मनाया गया। कार्यक्रम में बतौर मुख्यातिथि पहुँचे युवा कल्याण एवं खेल मंत्री गिरीशचन्द्र यादव व पूर्व विधायक दिनेश चौधरी ने शहीद स्तंभ पर पुष्प अर्पित करने के बाद दीप प्रज्ज्वलित कर कार्यक्रम की शुरुवात किये।

जिसके बाद वीडियो के माध्यम से पावर जनरेशन केप्सिटी, वन नेशन ग्रिड पावर व हर घर रोशनी घर घर बिजली कैसे पहुंची को दिखाया गया। साथ ही नुक्कड़ नाटक के माध्यम से बिजली के जीवन में उपयोगिता के बारे में दिखाया गया। कटिया फेंक कर बिजली न लेने का संदेश लोगो को नुक्कड़ नाटक के माध्यम से बताया गया।मुख्य अतिथि गिरीश चंद यादव ने अपने उद्बोधन में कहा कि देश व प्रदेश की सरकार अमृत महोत्सव मना रही है। 2014 के पहले बिजली देने के लिए सांसद व विधायक का कोटा होता था वह अपने कोटे से गांवो में मत और मतदाता के हिसाब से होता था विद्युतीकरण। पर देश प्रधानमंत्री के नेतृत्व में देश व प्रदेश की सरकारें मिलकर आपस मे समन्वय स्थापित कर हर मजरे व पुरवे में बिजली पहुंचाने का काम किया। मैं ये दावे के साथ कह सकता हूँ कि देश का कोई भी मजरा या पुरवा विद्युतीकरण से छूटा नहीं है। मोदीजी की सरकार बनने के बाद सरकार का यह संकल्प था कि भेद-भाव छोड़कर हर घर में बिजली पहुंचायी जाएगी।

उत्तर प्रदेश में जो निवेशक आये और अस्सी हजार करोड़ लाख का निवेश किया उसमें बिजली की बहुत बड़ी भूमिका है। बिजली, पानी, सड़क, सुरक्षा की गारन्टी होती है तभी उद्योगपति निवेश करने आते है। उत्तर प्रदेश ही नहीं देश मे भी सड़क, बिजली, पानी और सुरक्षा की क्षमता बढ़ी है और निवेशकों को विश्वास हुआ है कि सरकार संसाधन मुहैया करा सकती है। इसलिये उद्योगपतियों ने निवेश किया। आज देश में ग्राम सचिवालय और हर घर मे शौचालय का निर्माण करके प्रधानमंत्री ने महात्मा गांधी के सपने को साकार किया है। उन्होंने कहा कि ग्रामीणों के कार्य उनके गांव में ही किया जाय साथ ही बिजली से संबंधित जनता की समस्या को अधिकारियों से तत्काल निस्तारित करने के निर्देश दिए। साथ ही पंडित दीनदयाल ग्राम ज्योति योजना, सौभाग्य योजना की जानकारी देकर उपलब्धियों को गिनाये। वहीं कार्यक्रम में पूर्व विधायक दिनेश चौधरी ने भी अपने कार्यकाल के दौरान क्षेत्र के विकास के लिये किये गये कार्य एवं उपलब्धियों को गिनाया।

इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी साईं तेजा शीलम, उप जिलाधिकारी माज अख्तर, क्षेत्राधिकारी गौरव शर्मा, अधिक्षण अभियन्ता विवेक खन्ना,अधिसाशी अभियन्ता एके सिंह, अधिसाशी अभियन्ता विद्युत विरतण मण्डल द्वितीय राजकुमार, एसडीओ विद्युत रमेश कुमार वैश्य, खण्ड विकास अधिकारी रवि कुमार सिंह, प्रमुख प्रतिनिधि प्रवीन सिंह “बबलू”, जिला उपाध्यक्ष बृजेश सिंह, संजय सिंह समेत तमाम लोग उपस्थित रहे।कार्यक्रम का संचालन एडीओ पंचायत राम अवध राम ने की।
Previous articleजौनपुर : सेनापुर शहीदी गांव को मॉडल गांव की तरह किया जायेगा विकसित- सीडीओ
Next articleखाद्य पदार्थों की बरबादी रोकने के लिए सही व सुरक्षित नीति बनाने की जरूरत- डॉ अनुभव
तहलका24x7 की मुहिम..."सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏