जौनपुर : वायरल वीडियो की जांच के लिए सपा प्रतिनिधि मंडल ने सौंपा ज्ञापन

जौनपुर : वायरल वीडियो की जांच के लिए सपा प्रतिनिधि मंडल ने सौंपा ज्ञापन

# जिला पंचायत अध्यक्ष की कुर्सी के लिए अमल में लाया जा रहा है साम दाम दंड भेद का सूत्र

जौनपुर।
रवि शंकर वर्मा
तहलका 24×7
                  जिला पंचायत अध्यक्ष की कुर्सी के लिए एक नेता द्वारा साम दाम दंड भेद के सूत्र को अमल में लाते हुए एक जिला पंचायत सदस्य से मोबाइल पर बात करने का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ। जिसमें नेताजी द्वारा एक जिला पंचायत सदस्य को मोबाइल पर ही धनबल और दंडबल का पाठ पढ़ाया जा रहा है। उक्त वायरल वीडियो को संज्ञान में लेते हुए समाजवादी पार्टी के जिलाध्यक्ष समाजवादी पार्टी लाल बहादुर के नेतृत्व में एक प्रतिनिधि मंडल ने जिलाधिकारी को ज्ञापन सौंप कर निष्पक्ष जांच कराए जाने की मांग की है।

बता दें कि वायरल वीडियो में एक नेता द्वारा जिला पंचायत सदस्य को पैसे का लालच देकर और पैसे की लालच से जो नहीं मानेगा उसे गांजा के फर्जी मुकदमें में बंद कराने की धमकी दी जा रही है वहीं नेता द्वारा वीडियो मे कहा जा रहा है कि जिले के एक पुलिस अधिकारी ने 10 कुंटल गाजा मंगा कर रख दिया है। यह वायरल वीडियो देख सुनकर समाजवादी पार्टी के जिलाध्यक्ष लाल बहादुर ने जिलाधिकारी को ज्ञापन दिया और आरोप लगाया कि जिस तरह भारतीय जनता पार्टी की सरकार लोकतंत्र को खत्म करने की साजिश रच रही है वह बहुत निंदनीय है जिस तरह पंचायत चुनाव में भारतीय जनता पार्टी को बुरी तरह हार का सामना करना पड़ा उसको हार स्वीकार नहीं हो रही है बल्कि शासन प्रशासन के दबाव में पंचायतों का चुनाव कराना चाह रही है। चुनाव टालना भी इस साजिश का एक हिस्सा है।

 

वहीं आरोप लगाया कि आज भाजपा नेताओं द्वारा जिस तरह वायरल वीडियो में सुना और देखा जा रहा है उससे आभास हो रहा है कि चुनाव धन और प्रशासन के बल से लड़ने के लिए भाजपा सरकार तैयार है लेकिन हम समाजवादी लोग इनके गलत मनसूबे को सफल नहीं होने देंगे। इस ज्ञापन को हम चुनाव आयोग को भेज कर अवगत कराने का काम करेंगे। हमारी मांग है कि जो यह वीडियो वायरल हुआ है उसको पूर्ण रूप से जांच कराकर उचित कार्यवाही करें जिससे होने वाले जिला पंचायत अध्यक्ष व ब्लॉक प्रमुख के चुनाव में जिला पंचायत सदस्य और क्षेत्र पंचायत सदस्य निर्भीक होकर अपने मताधिकार का प्रयोग कर सकें। इस दौरान मुख्य रूप से श्याम बहादुर पाल, हिसामुद्दीन शाह, प्रवक्ता राहुल त्रिपाठी व आशिफ शाह मौजूद रहे।
Previous articleजौनपुर : जीवन को सहज, सुखद और सरल बनाने का मार्ग है आध्यात्म- संजय व्यास प्रभुजी
Next articleजौनपुर : सोशल मीडिया में इमाम पर अभद्र टिप्पणी से आक्रोशित जनों ने सौंपा ज्ञापन
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏