जौनपुर : सूबे के हर जिले में तड़का चाय की शाखा खोलने का लक्ष्य- मोहित सोनकर

जौनपुर : सूबे के हर जिले में तड़का चाय की शाखा खोलने का लक्ष्य- मोहित सोनकर

# बीटेक चाय वाले के नाम से मशहूर मोहित ने दिया है 18 लोगों को रोजगार

चंदवक।
विनोद कुमार
तहलका 24×7
                सोशल मीडिया देश में एक ऐसा माध्यम बन चुका है जिससे लोग रातों रात सुर्खियां बटोर रहे हैं एक ऐसा ही तड़का चाय वाला का वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है जिसे देखकर लोगो की पहली पसंद बनी हुई है। लोगो की भीड़ दुकान पर पहुंच चाय का आनंद लेते देखा जा रहा है।बता दे कि चंदवक थाना अंतर्गत गोलौनी गांव निवासी मोहित सोनकर उम्र 23 वर्ष तीन भाई बहनों ने सबसे बड़ा है हाईस्कूल, इंटरमीडिएट की पढ़ाई वाराणसी से पूरी करने के बाद यूपीटीयू के माध्यम से बीटेक के पहली ही लिस्ट में नाम आया और बुंदेलखंड विश्वविद्यालय से मैकेनिकल से बीटेक कर वाराणसी के एक कंपनी में 20 हजार रूपये पर नौकरी करने लगा।

मगर शुरू से ही मोहित के मन में नौकरी करने वाला नहीं बल्कि नौकरी देने वाले की दृढ़ इच्छा थी। एक ही माह में नौकरी छोड़ घर वापस लौट आया। काफी विचार विमर्श करने बाद मोहित ने चाय बेचने का मन बनाया तो घर वालो ने डांट फटकार लगाना शुरू कर दिया। मगर परिवार के लाख विरोध के बाद भी मोहित ने अपने कदमों को पीछे हटने के बजाय अपने लक्ष्य को पूरा करने के जुट गया। कोरोना काल में महज ढाई लाख के लागत से वाराणसी आजमगढ़ के खुज्जी मोड़ पर तड़का चाय नाम की दुकान खोलकर चाय बेचना शुरू किया। चाय की दुकान पर अनेकों प्रकार के कला के निर्मित गुलहड़ों को देख लोगों की भीड़ इकट्ठी होने लगी।
धीरे धीरे लोगों की पहली पसंद तड़का व जानलेवा चाय बन गई। चाय पीने के लिये गोरखपुर, आजमगढ़ समेत अन्य जिलों के लोगों की पहली पसंद बन गई। मोहित ने बताया कि नौकरी करने वालों की कद्र नहीं होती है नौकरी देने वालों की कद्र होती है इसीलिए मैंने नौकरी छोड़ बिजनेस को अपना लक्ष्य माना। जिस समय चाय की दुकान खोली तो कुछ दिनों तक अजीब लगा मगर अपने लक्ष्य को देखते हुए मैंने हार नहीं मानी आज मेरी दुकान पर 10 रूपये से लेकर 120 रूपये तक की चाय मिलती है। उन्होंने बताया की रोजाना दो हजार कप चाय बेच लेते है।दूसरी शाखा चंदवक बाजार में खोला गया है दोनों दुकान में मिलाकर कुल 18 लोगो को रोजगार दिया गया है। मेरा लक्ष्य है कि प्रदेश के हर जिले में तड़का चाय की शाखा खोलने की है जिससे सैकड़ों लोगों को रोजगार मिल सके।मुझे धीरूभाई अंबानी की तरह नौकरी देने वाला बनना है जो क्षेत्र में चर्चा का विषय बना हुआ है।
Previous articleजौनपुर : आईटीआई संघ ने विभिन्न मांगों को लेकर सौंपा ज्ञापन
Next articleजौनपुर : “आओ करें धरा का श्रृंगार” के तहत खेपतपुर विद्यालय में रोपे गए 150 पौधे
तहलका24x7 की मुहिम..."सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏