जौनपुर : पर्यावरण संतुलन के लिए पौधरोपण ही एक मात्र विकल्प- राघवेंद्र सिंह

जौनपुर : पर्यावरण संतुलन के लिए पौधरोपण ही एक मात्र विकल्प- राघवेंद्र सिंह

# वृक्ष ही धरा का गहना है, पौधारोपण करके धरा का श्रृंगार करते रहना है- प्रो आलोक सिंह

जौनपुर।
विश्व प्रकाश श्रीवास्तव
तहलका 24×7
                 तिलकधारी महाविद्यालय में पौधारोपण कार्यक्रम के तहत सोमवार को पहले दिन कॉलेज के अध्यक्ष प्रबंधक एवं प्राचार्य द्वारा महाविद्यालय में 300 (फाइकस फ़ॉक्सटेल पॉम, सुपारी पॉम, बोतल पॉम, कचनार, गोल्डमोहर, चितवन, आम, आवंला, बेल, कटहल, लीची का पौधारोपण किया गया।
इस अवसर पर महाविद्यालय के प्रबंधक राघवेंद्र सिंह महाविद्यालय में आयोजित वृक्षारोपण कार्यक्रम में बोलते हुए कहा कि “वृक्षारोपण महान कार्य है। जीवन में पेड़ो का बहुत ही महत्व है। ये जीवन जीने के लिए वातावरण से कार्बन डाई ऑक्साइड को ग्रहण करके हमें ऑक्सीजन प्रदान करते हैं। वृक्ष ही हमारे सच्चे साथी है। यदि वातावरण में पेड़ नहीं होते तो पृथ्वी पर कभी जीवन संभव होता ही नहीं। उन्होंने कहा कि वृक्ष हमें छाया, लकड़ियाँ, फल और सभी पक्षियों को घर भी देते हैं।
इसी क्रम मे महाविद्यालय के प्राचार्य प्रो. आलोक कुमार सिंह ने कहा कि वृक्ष प्रकृति की अनुपम देन हैं। वृक्षों को हरा सोना भी कहा जाता है। पेड़ प्रकृति के द्वारा दी गई वो देन है, जिसका कोई दूसरा विकल्प नहीं है। इनके कारण ही हमारा और पृथ्वी का अस्तित्व है, पेड़ों के बिना यह सब असंभव है। जहाॅं पेड़ अधिक होंगे, वहाॅं पर साफ व शुद्ध जलवायु होगी।
उक्त कार्यक्रम में प्रो रजनीश सिंह, विभागाध्यक्ष उद्यान विज्ञान एवं विभाग के डॉ हरिबक्श, डॉ राज पांडेय, अमन श्रीवस्तव व महाविद्यालय के बीएससी कृषि व एमएससी कृषि उद्यान के छात्रों ने वृक्षारोपण कार्यक्रम में सराहनीय सहयोग रहा। कार्यकर्म में प्रो राजीव रतन सिंह, प्रो हिमांशु सिंह, डा विजय कुमार सिंह, डॉ हरिओम त्रिपाठी, डॉ राहुल, डॉ वेद प्रकाश सिंह, पंकज कुमार सिंह आदि उपस्थित रहे।
Previous articleजौनपुर : बालू लदा ट्रैक्टर चोरी होने का आरोप
Next articleजौनपुर : रक्तदान के प्रति युवाओं में बढ़ रही है जागरूकता- डॉ तारिक
तहलका24x7 की मुहिम..."सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏