जौनपुर : मनरेगा श्रमिकों के कार्यों पर छाए काले बादल

जौनपुर : मनरेगा श्रमिकों के कार्यों पर छाए काले बादल

# जेसीबी से कराया जा रहा है चकमार्ग बनाने का कार्य

जौनपुर।
विश्व प्रकाश श्रीवास्तव
तहलका 24×7
                क्षेत्र मे तालाब, नालों एवं चकमार्ग का कार्य जेसीबी से कराया जा रहा है। ब्लॉक कर्मचारी से लेकर ऊपर तक अधिकारी भी मौन धारण किये हुए है। प्रदेश सरकार द्वारा चलाई जा रही कई योजनाओं में क्षेत्र के गांव देहात से जो बेरोजगार लोग है उनके लिए मनरेगा के तहत कार्य करने के पश्चात जो धन मुहैया हो उससे गरीब असहाय लोगो के परिवार अच्छे ढंग जीवन यापन करें और खुशहाल रहे पर यहां पर मनरेगा के तहत कार्य करने वाले लोगों के कार्यों के ऊपर काले बादल छाए हुए हैं। एक मामला प्रकाश में आया है।

भीलमपुर ग्राम सभा में चकमार्ग संख्या 1077 पर गलत ढंग से प्रधान पति द्वारा सीमांकन कराया गया है जबकि नक्शा बंदोबस्त चकबनी में कुआं से सटकर रामपुर बॉर्डर तक गया है जो कि दक्षिणी छोर हद्द 1072 से 115 लाठा पर रामपुर बॉर्डर उत्तर 1077 चक मार्ग जाता है जो हल्का लेखपाल द्वारा गलत तरीके से सीमांकन करते हुए 120 लाठा पर चिन्हित कर दिया गया है। जो गलत नाप होने के कारण आनन-फानन में चक मार्ग बनाने का कार्य जेसीबी द्वारा प्रारंभ कर दिया गया।

शिकायतकर्ता जयप्रकाश पटेल एडवोकेट निवासी भीलमपुर ने जिलाधिकारी को प्रार्थना पत्र देकर मांग की है कि चकमार्ग को सही ढंग से चिन्हित करते हुए मनरेगा कर्मियों द्वारा कार्य कराया जाए। प्रधान पति संजय सिंह तथा क्षेत्रीय लेखपाल पवन गुप्ता द्वारा सही ढंग से चकमार्ग का सीमांकन नहीं कराया गया है जिससे गांव में विवाद बढ़ने अथवा हत्या जैसे अपराध भविष्य में होने की संभावना है। ग्राम प्रधान पति संजय सिंह द्वारा तालाब की खुदाई से लेकर चकमार्ग तक का कार्य जेसीबी द्वारा करा रहे हैं जिसके कारण प्रदेश सरकार को बदनाम करने तथा गरीब असहाय मजदूर लोगों के दिलों में सरकार के प्रति नफरत पैदा करने की कोशिश कर रहे है।
Previous articleजौनपुर : चोरी की बाइक के साथ एक अभियुक्त गिरफ्तार
Next articleसुल्तानपुर : लोकमान्य तिलक ने राष्ट्रवाद को दी नई दिशा- ज्ञानेन्द्र विक्रम सिंह रवि
तहलका24x7 की मुहिम..."सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏