आपदा में रोवर्स- रेंजर्स की भूमिका अहम- प्रो. निर्मला एस मौर्य

आपदा में रोवर्स- रेंजर्स की भूमिका अहम- प्रो. निर्मला एस मौर्य

# रोवर्स- रेंजर्स लीडर बेसिक कोर्स प्रशिक्षण शिविर का हुआ शुभारंभ

जौनपुर।
विश्व प्रकाश श्रीवास्तव
तहलका 24×7
               वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय शिक्षकों के लिए परिसर में शुक्रवार को रोवर्स- रेंजर्स लीडर बेसिक कोर्स प्रशिक्षण शिविर का शुभारंभ किया गया। शिविर के उदघाटन सत्र में बतौर मुख्य अतिथि विश्वविद्यालय की कुलपति प्रो. निर्मला एस मौर्य ने कहा कि हम कितने भी बड़े हो जाएं हमारे अंदर एक बच्चे का भाव बने रहना चाहिए। व्यक्ति को जीवन के हर पल का आनंद लेना चाहिए। उन्होंने कहा कि आपदा के समय यहीं रोवर्स- रेंजर्स जैसी संस्थाएं काम आती हैं जिससे संकट का समाधान होता है।

इस प्रशिक्षण के माध्यम से प्रतिभागियों में लीडर का भाव जागृत होगा। उन्होंने कहा कि कोई भी व्यक्ति पूर्ण नहीं होता जिस दिन व्यक्ति पूर्ण समझ लिया उसी दिन उसका विकास रुक जाता है। प्रशिक्षण एलओसी बेबी खुशनुमा ने कहा कि प्रशिक्षण के माध्यम से शिक्षकों में नया दृष्टिकोण पैदा होगा। इस प्रशिक्षण के बाद शिक्षक अपने विद्यार्थियों में नई ऊर्जा का संचार होगा। इसी क्रम में सहायक कुलसचिव बबिता सिंह ने कहा कि जीवन में मनुष्य हर समय कुछ न कुछ सीखता रहता है। रोवर्स रेंजर्स के संयोजक डॉ जगदेव ने अतिथियों का स्वागत एवं शिविर की रूपरेखा प्रस्तुत की। उन्होंने कहा कि विश्वविद्यालय का रोवर्स रेंजर्स अपनी गतिविधियों के कारण प्रदेश में प्रथम स्थान पर है।

रोवर्स की कैडेट जया सिंह ने स्वागत गीत प्रस्तुत किया। संचालन डॉ अजय कुमार दुबे एवं धन्यवाद ज्ञापन डॉ अशोक कुमार ने किया। इस अवसर पर डॉ. दिग्विजय सिंह राठौर, मुहम्मद सादिक, डॉ सुनील कुमार, डॉ पंकज सिंह, डॉ विनय वर्मा, डॉ मनोज तिवारी, डॉ राजेन्द्र कुमार सिंह, डॉ श्याम सुंदर उपाध्याय, डॉ आलोक दास, डॉ अमरजीत, डॉ नीता सिंह, डॉ योगेंद्र प्रताप सिंह, डॉ प्रभात कुमार यादव, कंचन यादव, डॉ सुषमा मिश्रा, डॉ विनिता श्रीवास्तव समेत विभिन्न जनपदों के शिक्षक उपस्थित रहे।

लाईव विजिटर्स

27319994
Live Visitors
6154
Today Hits

Earn Money Online

Previous articleमहिलाओं ने स्कूटी रैली के माध्यम से मतदाताओं को किया जागरूक
Next articleजौनपुर : हौसला बुलन्द चोरों ने विद्यालय को बनाया निशाना
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏