सुल्तानपुर : पूर्व एडीएम उमाकांत त्रिपाठी के नाम पर ठग लिए 40 लाख

सुल्तानपुर : पूर्व एडीएम उमाकांत त्रिपाठी के नाम पर ठग लिए 40 लाख

सुल्तानपुर।
ज़ेया अनवर
तहलका 24×7
                 जिले में अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व के पद पर तैनात रहे उमाकांत त्रिपाठी के नाम पर एक व्यक्ति ने 35 से 40 लाख रुपये की ठगी की है। प्रकरण संज्ञान में आने के बाद उमाकांत त्रिपाठी ने कोतवाली नगर में आरोपी के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई है।
मौजूदा समय में बांदा में अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व के पद पर कार्यरत उमाकांत त्रिपाठी वर्ष 22 फरवरी 2019 से 26 अक्तूबर 2021 तक जिले के एडीएम वित्त एवं राजस्व रहे। कोतवाली नगर में दर्ज कराई गई प्राथमिकी के मुताबिक जिले में तैनाती के दौरान एडीएम वित्त से बल्दीराय क्षेत्र के पूरे रिसाल मिश्र मजरे डीह निवासी रविंद्रनाथ मिश्र मिलता-जुलता रहता था। रविंद्रनाथ लोगों से एडीएम को अपना रिश्तेदार बताता रहा। इस तरह उसने लोगों के विभिन्न कार्य कराने के बहाने 35 से 40 लाख रुपये की ठगी कर ली। जिले से उमाकांत त्रिपाठी का बांदा स्थानांतरण हो जाने के बाद लोगों का जब काम नहीं हुआ तो पैसा देने वाले लोग रविंद्र से अपना पैसा वापस मांगने लगे।
इस पर रविंद्रनाथ यह कहकर बचता रहा कि साहब पैसा वापस नहीं दे रहेे हैं। प्राथमिकी के मुताबिक पवनेश दुबे नामक एक व्यक्ति की ओर से सोशल मीडिया व फेसबुक के जरिए जानकारी होने पर एडीएम वित्त उमाकांत त्रिपाठी ने आरोपी के खिलाफ जिले के कोतवाली नगर में प्राथमिकी दर्ज कराई है। एडीएम ने आरोपी रविंद्र को ठग बताते हुए लोगों को सावधान रहने के लिए सचेत भी किया है। पुलिस ने धोखाधड़ी के मामले में रविंद्र के खिलाफ केस दर्ज कर पुलिस जांच कर रही है।
Previous articleसुल्तानपुर : आठ लाख की स्मैक के साथ तीन तस्कर गिरफ्तार
Next articleआजमगढ़ : आशा संगिनी पर लगाए गंभीर आरोप, सीएम को सौंपा ज्ञापन
तहलका24x7 की मुहिम..."सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏